Shayari on Eyes in Hindi with Images

72
Shayari on Eyes in Hindi with Images
Shayari on Eyes in Hindi with Images

Shayari on Eyes in Hindi. इकरार में शब्दों की एहमियत नहीं होती,
दिल के जज़्बात की आवाज़ नहीं होती,
आँखें बयान कर देती है दिल की दास्तान,
मोहब्बत लफ्जों की मोहताज नहीं होती।

Ikraar Mein Shabdon Ki Ehamiyat Nahin Hoti,
Dil Ke Jazbaat Ki Aavaaz Nahin Hoti,
Aankhein Bayan Kar Deti Hain Dil Ki Dastaan,
Mohabbat Lafjon Ki Mohtaaj Nahin Hoti.

  • Nigah-e-Lutf Se Ek Baar Mujhko Dekh Lete Hain,
    Mujhe Bechain Karna Jab Unhen Manjoor Hota Hai.निगाह-ए-लुत्फ़ से एक बार मुझको देख लेते हैं,
    मुझको बेचैन करना जब उन्हें मंजूर होता है ।
  • Sharma Kar Jhuk Rahi Hain Humari Nigahen,
    Kaha Tha Na Ki Itne Kareeb Mat Aao.शरमा कर झुक रही है हमारी निगाहें,
    कहा था ना कि इतने करीब मत आओ।
  • Milayenge Nazar Kis Se
    Ke Wo Bedeed Hain Aise,
    Nahi Aayina Me Aankhein
    Milaate Apni Aankho Se.
  • Jo Wo Aankhon Me Aaya
    Kaun Usko Dekh Sakta Tha,
    Kasam Aankhon Ki Hum Usko
    Chhupate Apni Aankhon Se.
  • Zafar Giriya Humara
    Kuchh Na Kuchh Taseer Rakhta Hai,
    Unhe Hum Dekhte Hain
    Muskurate Apni Aankhon Se.
  • Shayari on Eyes in Hindi with Images

shayari on eyes, shayari on beautiful eyes, tareef shayari on eyes

  • UthhTi Nahi Hai Aankh Kisi Aur Ki Taraf,
    Paband Kar Gayi Hai Kisi Ki Najar Mujhe,
    Imaan Ki Toh Ye Hai Ke Imaan Ab Kahan,
    Kafir Banaa Gayi Teri Kafir Najar Mujhe.
  • उठती नहीं है आँख किसी और की तरफ,
    पाबन्द कर गयी है किसी की नजर मुझे,
    ईमान की तो ये है कि ईमान अब कहाँ,
    काफ़िर बना गई तेरी काफ़िर-नज़र मुझे।
  • Teri Nigah Dil Se Jigar Tak Utar Gayi,
    Dono Ko Hi EkAda Mein Rajamand Kar Gayi.
  • तेरी निगाह दिल से जिगर तक उतर गयी,
    दोनों को ही एकअदा में रजामंद कर गई।
  • Aankh Se Door Na Ho Dil Se Utar Jaega,
    Waqt Ka Kya Hai Gujarta Hai Gujar Jaega.आँख से दूर न हो दिल से उतर जाएगा
    वक़्त का क्या है गुजरता है गुजर जाएगा।
  • Shor Na Kar Dhadkan Jara, Tham Ja Kuch Pal Ke Liye,
    Badi Mushkil Se Meri Aankhon Me Uska Khwab Aaya Hai.शोर न कर धड़कन ज़रा, थम जा कुछ पल के लिए,
    बड़ी मुश्किल से मेरी आखों में उसका ख्वाब आया है।
  • Adaa Nigaahon Se Hota Hai Farz-e-Goyai,
    Jubaan Ki Hadd Se Jab Shauke-Bayaan Gujarta Hai.अदा निगाहों से होता है फ़र्ज़-ए-गोयाई,
    जुबान की हद से जब शौके-ए-बयां गुजरता है।
  • shayari on eyes, shayari on beautiful eyes, tareef shayari on eyes

shayari on eyes in hindi, hindi shayari on eyes, shayari on eyes in english

  • Ishq Ke Phool Khilte Hain Teri KhoobSurat Aankhon Mein,
    Jahan Dekhe Tu Ek Najar Wahan Khushboo Bikhar Jaaye.
    इश्क के फूल खिलते हैं तेरी खूबसूरत आँखों में,
    जहाँ देखे तू एक नजर वहाँ खुशबू बिखर जाए।
  • Sagar Se Gahri Hain Aapki Ye Najren,
    Khushiyon Ki Shahnai Hain Aapki Ye Najren,
    Husn Ka Jaam Hain Aapki Ye Najaren,
    Chhupayen Kai Armaan Aapki Ye Najren,
    Le Le Na Kahin Hamari Jaan Aapki Ye Najarenसागर से गहरी हैं आपकी ये नजरें,
    खुशियों की शहनाई हैं आपकी ये नजरें,
    हुस्न का जाम हैं आपकी ये नजरें,
    छुपायें कई अरमान आपकी ये नजरें,
    ले ले न कहीं हमारी जान आपकी ये नजरें।
  • Bina Puchhe Hi Sulajh Jati Hai Sawalon Ki Gutthiyan,
    Kuchh Aankhein Itni Hazr-Jawaab Hoti Hain.
    बिना पूछे ही सुलझ जाती हैं सवालों की गुत्थियाँ,
    कुछ आँखें इतनी हाज़िर-जवाब होती हैं।
  • Samne Na Ho To Tarasti Hain Aankhein,
    Yaad Me Teri Barsti Hain Aankhein,
    Mere Liye Nahin Inke Liye Hi Aa Jaao,
    Apka Bepanah Intezar Karti Hain Aankhein.सामने ना हो तो तरसती हैं आँखें,
    याद में तेरी बरसती हैं आँखें,
    मेरे लिए नहीं इनके लिए ही आ जाओ,
    आपका बेपनाह इंतज़ार करती हैं आँखें।
  • Log Kehte Hain Jinhein
    Neel-Kanwal Wo To Qateel,
    Shab Ko Inn Jheel Si
    Aankhon Me Khila Karte Hain.लोग कहते हैं जिन्हें
    नील-कंवल वो तो क़तील,
    शब् को इन झील सी
    आँखों में खिला करते हैं।
  • shayari on eyes in hindi, hindi shayari on eyes, shayari on eyes in english

shayari on beautiful eyes in hindi, 2 line shayari on eyes

  • Yeh Muskurati Huyi Aankhein
    Jin Mein Raks Karti Hai Bahaar,
    Shafaq Ki, Gul Ki,
    Bijliyon Ki Shokhiyan Liye Huye.
    यह मुस्कुराती हुई आँखें
    जिनमें रक्स करती है बहार,
    शफक की, गुल की,
    बिजलियों की शोखियाँ लिये हुए।
  • Ek Najar Dekh Le Hume Jeene Ki Izazat De De,
    Ai Ruthne Wale… Wo Pahli Si Mohabbat De De.एक नजर देख ले हमे जीने की इजाजत दे दे,
    ए रुठने वाले… वो पहली सी मोहब्बत दे दे।
  • Jab Bhi Dekhta Hun Mujhse HarBar Nazaren Chura Leti Hai,
    Maine Kagaz Par Bhi Bna Ke Dekhi Hain Aankhen Uski.जब भी देखता हूँ मुझसे हरबार नज़रें चुरा लेती है,
    मैंने कागज़ पर भी बना के देखी हैं आँखें उसकी।
  • Bahut Khoobsurat Hain Ye Aankhen Tumhari,
    Inhen Bana Do Kismat Humari,
    Hume Nahi Chahiye Zamane Ki Khushiyan,
    Agar Mil Jaaye Mohabbat Tumhari.बहुत खूबसूरत हैं ये आँखें तुम्हारी,
    इन्हें बना दो किस्मत हमारी,
    हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ,
    अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी।
  • Ye Muskurati Hui Aankhein Jin Me Raks Karti Hai Bahaar,
    Shafaq Ki, Gul Ki, Bijliyon Ki Shokhiyan Liye Huye.ये मुस्कराती हुई ऑंखें जिन में रक्स करती है बहार,
    शफक की, गुल की , बिजलीओं की शोखियां लिए हुए।
  • shayari on beautiful eyes in hindi, 2 line shayari on eyes

shayari on eyes in hindi 140 character, flirting shayari on eyes, romantic shayari on eyes in hindi

  • Uss Ghadi Dekho Unka Aalam,
    Neend Se Jab Hon Bhojhal Aakhein,
    Kaun Meri Najar Mein Samaaye,
    Dekhi Hain Maine Tumhari Aankhein.
    उस घड़ी देखो उनका आलम
    नींद से जब हों बोझल आँखें,
    कौन मेरी नजर में समाये
    देखी हैं मैंने तुम्हारी आँखें।
  • Jaane Kyun Doob Jata Hun Har Bar Inhein Dekh Kar,
    Ek Dariya Hain Ya Poora Samandar Hain Teri Aankhein.
    जाने क्यों डूब जाता हूँ हर बार इन्हें देख कर,
    इक दरिया हैं या पूरा समंदर हैं तेरी आँखें।
  • Ham Bhatkte Rahe The Anjaan Raahon Me,
    Raat Din Kaat Rahe The Yun Hi Bas Aanhon Me,
    Ab Tamnna Hui Hai Fir Se Ab Jeene Ki Hume,
    Kuch Baat Hai Sanam Teri In Nigahon Me.हम भटकते रहे थे अनजान राहों में,
    रात दिन काट रहे थे यूँ ही बस आहों में,
    अब तम्मना हुई है फिर से जीने की हमें,
    कुछ तो बात है सनम तेरी इन निगाहों में।
  • Jo Unki Aankho Se Bayaan Hote Hain,
    Wo Lafz Shayari Me Kahan Hote Hain.जो उनकी आँखों से बयान होते हैं ,
    वो लफ्ज शायरी में कहाँ होते हैं ।
  • shayari on eyes in hindi 140 character, flirting shayari on eyes, romantic shayari on eyes in hindi

shayari on smile and eyes, best shayari on eyes, shayari on eyes and smile in hindi

  • Usne Aankhon Se Aankhein Jab Mila Di,
    Humari Zindagi Jhoom Kar Muskura Di,
    Jubaan Se To Hum Kuchh Na Kah Sake,
    Par Aankhon Ne Dil Ki Kahani Suna Di.उसने आँखों से आँखें जब मिला दी,
    हमारी ज़िन्दगी झूम कर मुस्कुरा दी,
    जुबान से तो हम कुछ न कह सके,
    पर आँखों ने दिल की कहानी सुना दी।
  • Nigaahon Se Qatal Kar De Na Ho Takleef Dono Ko,
    Tujhe Khanjar Uthhane Ki Mujhe Gardan Jhukane Ki.
    निगाहों से कत्ल कर दे न हो तकलीफ दोनों को,
    तुझे खंजर उठाने की मुझे गर्दन झुकाने की।
  • Najar Ne Najar Se Mulaqaat Kar Li,
    Rahe Khamosh Dono Aur Baat Kar Li,
    Mohabbat Ki Fiza Ko Jab Khush Paya,
    In Aankho Ne Ro Ro Ke Barsat Kar Li.नज़र ने नज़र से मुलाक़ात कर ली,
    रहे दोनों खामोश पर बात कर ली,
    मोहब्बत की फिजा को जब खुश पाया,
    इन आंखों ने रो रो के बरसात कर ली।
  • Tumhari Berukhi Ne Laaj Rakh li MaiKhane Ki,
    Tum Aankho Se Pila Dete To Paimane Kahan Jate.तुम्हारी बेरुखी ने लाज रख ली मैखाने की,
    तुम आँखों से पिला देते तो पैमाने कहाँ जाते ।
  • Aankhein Bhi Meri Palko Se Sawal Karti Hain,
    Har Waqt Aapko Hi Bas Yaad Karti Hain,
    Jab Tak Na Kar Lein Deedar Aapka,
    Tab Tak Wo Aapka Intezar Karti Hain.आँखें भी मेरी पलकों से सवाल करती हैं,
    हर वक्त आपको ही बस याद करती हैं,
    जब तक न कर ले दीदार आपका,
    तब तक वो आपका इंतजार करती हैं।
  • shayari on smile and eyes, best shayari on eyes, shayari on eyes and smile in hindi

2 line shayari on eyes in hindi, shayari on eyes for friend, beautiful hindi shayari on eyes

  • Kaid Khane Hain… Bin Salakhon Ke,
    Kuchh Yun Charche Hain Tumhari Aankhon Ke.कैद खानें हैं… बिन सलाखों के,
    कुछ यूँ चर्चे हैं तुम्हारी आँखों के।
  • Deewane Hain Tere, Is Baat Se Inkaar Nahin,
    Kaise Kahen Ki Hamen Tumse Pyar Nahin,
    Kuchh To Kasoor Hai Teri In Aankhon Ka,
    Ham Akele To Gunhagaar Nahin.दीवाने हैं तेरे, इस बात से इंकार नहीं,
    कैसे कहें कि हमें तुमसे प्यार नहीं,
    कुछ तो कसूर है तेरी इन आँखों का,
    हम अकेले तो गुनहगार नहीं।
  • Chiragon Ko Aankhon Me Mahfooj Rakhna,
    Badi Door Tak Rat Hi Rat Hogi,
    Musaphir Ho Tum Bhi Musaphir Hun Main Bhi,
    Kisi Mord Par Phir Mulakat Hogi.चिरागों को आंखों में महफूज रखना,
    बड़ी दूर तक रात ही रात होगी,
    मुसाफिर हो तुम भी, मुसाफिर हैं हम भी,
    किसी मोड़ पर, फिर मुलाकात होगी।
  • Doob Kar Teri Jheel Si Aankhon Me,
    Ek Maykash Bhi Shayad Peena Bhool Jaaye.डूब कर तेरी झील सी गहरी आँखों में,
    एक मयकश भी शायद पीना भूल जाए।
  • Ai Samandar Main Tujhse Waqif Hu
    Magar Itna Batata Hu,
    Wo Aankhein Tujhse Gehri Hain
    Jinka Main Aashiq Hu.ऐ समंदर मैं तुझसे वाकिफ हूँ
    मगर इतना बताता हूँ,
    वो ऑंखें तुझसे गहरी हैं
    जिनका मैं आशिक हूँ।
  • Teri Nigaah Ne Kya Keh Diya Khuda Jane,
    Ulat Kar Rakh Diye BadahKashon Ne Paimane.तेरी निगाह ने क्या कह दिया खुदा जाने,
    उलट कर रख दिए बदह्काशों ने पैमाने।
  • 2 line shayari on eyes in hindi, shayari on eyes for friend, beautiful hindi shayari on eyes

love shayari on eyes, shayari on hair and eyes, hindi shayari on beautiful eyes

  • Mere Honthhon Ne Har Baat Chhupa Rakhi Thi,
    Aankhon Ko Ye Hunar Kabhi Aaaya Hi Nahin.मेरे होठों ने हर बात छुपा कर रखी थी,
    आँखों को ये हुनर कभी आया ही नहीं।
  • Wo Bolte Rahe… Ham Sunte Rahe…
    Jawaab Aankhon Mein Tha Wo Jubaan Mein Dhoondhte Rahe.वो बोलते रहे… हम सुनते रहे…
    जवाब आँखों में था वो जुबान में ढूंढते रहे।
  • Ek Si Shokhi Khuda Ne Di Hai Husno-Ishq Ko,
    Fark Bas Itna Hai Wo Aankhon Mein Hai Yeh Dil Mein Hai.
    एक सी शोखी खुदा ने दी है हुस्नो-इश्क को,
    फर्क बस इतना है वो आंखों में है ये दिल में है।
  • Kuchh Tumhari Nigaah Kafir Thi,
    Kuchh Mujhe Bhi Kharaab Hona Tha.कुछ तुम्हारी निगाह काफिर थी,
    कुछ मुझे भी खराब होना था।
  • Aankhon Par Teri Nigahon Ne Dstkhat Kya Diye,
    Humne Sanso Ki Wasiyat Tumhare Naam Kar Di.आँखों पर तेरी निगाहों ने दस्तख़त क्या दिए,
    हमने साँसों की वसीयत तुम्हारे नाम कर दी।
  • Dooba Hua Hun Na Nikal Paunga Main,
    Khoobsurat Muskurhat Aur Aankhon Se Meri.डूबा हुआ हूँ ना निकल पाऊँगा मैं कभी,
    ख़ूबसूरत मुस्कुराहट और आँखों से तेरी।
  • love shayari on eyes, shayari on hair and eyes, hindi shayari on beautiful eyes

romantic shayari on eyes, shayari on girl eyes

  • Uski Kudrat Dekhta Hun Teri Aankhein Dekhkar,
    Do Piyalon Mein Bhari Hai Kaise Lakhon Man Sharab.
    उसकी कुदरत देखता हूँ तेरी आँखें देखकर,
    दो पियालों में भरी है कैसे लाखों मन शराब।
  • Aankhon Par Teri Nigahon Ne Dastkhat Kya Kie,
    Hamne Sanson Ki Vasiyat Tumhare Naam Kar Di.आँखों पर तेरी निगाहों ने दस्तख़त क्या किए,
    हमने साँसों की वसीयत तुम्हारे नाम कर दी।
  • Tumhari Ek Nigah Se Qatal Hote Hai Log “Faraz”
    Ek Nazar Hum Ko Bhi Dekh Lo Ke Tum Bin Zindagi Achchi Nahin Lagti.तुम्हारी एक निगाह से कतल होते हैं लोग “फ़राज़”
    एक नज़र हम को भी देख लो के तुम बिन ज़िन्दगी अच्छी नहीं लगती।
  • Kya Puchhte Ho Shokh Nigaahon Ka Majra,
    Do Teer The Jo Mere Jigar Me Utar Gaye.क्या पूछते हो शोख निगाहों का माजरा,
    दो तीर थे जो मेरे जिगर में उतर गए।
  • Tumhari Pyar Bhari Nigaahon Ko Dekhkar
    Hume Kuchh Aisa Guman Hota Hai,
    Dekho Na Mujhe Is Kadar Madhosh Najaro Se,
    Ki Dil Beimaan Hota Hai.तुम्हारी प्यार भरी निगाहों को देखकर
    हमें कुछ ऐसा गुमान होता है,
    देखो ना मुझे इस कदर मदहोश नज़रों से
    कि दिल बेईमान होता है।
  • Nigahon Par Nigaahon Ke Pahre Hote Hain,
    In Nigahon Ke Ghao Bhi Itne Gahre Hote Hain,
    Na Jaane Kyu Koste Hain Log Deewane Ko,
    Barbaad Karne Wale To Wo Haseen Chehre Hain.निगाहों पर निगाहों के पहरे होते हैं,
    इन निगाहों के घाव भी इतने गहरे होते हैं,
    न जाने क्यों कोसते हैं लोग दीवानों को,
    बर्बाद करने बाले तो वो हसीन चेहरे होते हैं।

beautiful shayari on eyes, gulzar shayari on eyes, hindi romantic shayari on eyes

  • Milayenge Najar Kis Se
    Ke Wah BeDeed Hain Aise,
    Nahi Aayina Mein Aankhein
    Milaate Apni Aankho Se,
    Jo Wah Aankhon Mein Aaya
    Kaun Usko Dekh Sakta Tha,
    Kasam Aankhon Ki Hum Usko
    Chhupate Apni Aankhon Se,
    Zafar Giriya Humara
    Kuchh Na Kuchh Taseer Rakhta Hai,
    Unhein Hum Dekhte Hain
    Muskurate Apni Aankhon Se.
  • Raat Badi Mushkil Se Khud Ko Sulaya Hai Maine,
    Apni Aankho Ko Tere Khwab Ka Laalach Dekar.
    रात बड़ी मुश्किल से खुद को सुलाया है मैंने,
    अपनी आँखों को तेरे ख्वाब का लालच देकर।
  • Dekhkar Kajal Ki Lakeeren Unki Aankhon Mein,
    Pahli Dafa Ye Jana Ki Ye Chaand Ki Khoobsurati Raat Se Kyun Hai.देखकर काजल की लकीरें उनकी आँखों में,
    पहली दफ़ा ये जाना कि ये चाँद की ख़ूबसूरती रात से क्यूं है।
  • Ek Najar Fer Le Jeene Ki Izazat De De,
    Ruthne Wale Wo Pahli Si Mohabbat De De.एक नजर फेर ले जीने की इजाजत दे दे,
    रुठने वाले वो पहली सी मोहब्बत दे दे।
  • Nasheeli Aankhon Se Wo Jab Hamen Dekhte Hain,
    Hum Ghabra Ke Apni Aankhein Jhuka Lete Hain,
    Kaise Milaaye Hum Un Aankhon Se Aankhein,
    Suna Hai Wo Aankhon Se Apna Bana Lete Hai.नशीली आंखो से वो जब हमें देखते हैं,
    हम घबरा के अपनी ऑंखें झुका लेते हैं,
    कैसे मिलाए हम उन आँखों से आँखें,
    सुना है वो आँखों से अपना बना लेते हैं।
  • Nazar Jiski Taraf Karke Nihagein Fer Lete Ho,
    Qayamat Tak Uss Dil Ki Pareshani Nahi Jati.नज़र जिसकी तरफ करके निगाहें फेर लेते हो,
    क़यामत तक उस दिल की परेशानी नहीं जाती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here