आर्मीनिया और अजरबैजान के बीच युद्ध शुरू हुआ, 80 लोगों की मौत

148
Armenia and Azerbaijan fight over disputed Nagorno-Karabakh region
Armenia and Azerbaijan fight over disputed Nagorno-Karabakh region

आर्मीनिया और अजरबैजान के बीच युद्ध शुरू हुआ, 80 लोगों की मौत. दोनों ओर से हवाई और टैंक से हमले, रूस और तुर्की में मंडराया युद्ध का खतरा. आर्मेनिया और अजरबैजान के बीच रविवार को विवादित इलाके नागोर्नो कारबाख को लेकर एक बार फिर से युद्ध शुरू हो गया। Armenia and Azerbaijan fight over disputed Nagorno-Karabakh region

Clashes erupt between Armenia, Azerbaijan

इस बीच, तुर्की ने युद्ध में अजरबैजान का साथ देने का ऐलान कर दिया है। तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोआन ने रविवार को ट्वीट किया, ”मैं और तुर्की के सभी नागरिक अजरबैजान के साथ खड़े हैं। अजरबैजान पर हमला करके आर्मेनिया ने एक बार फिर से साबित किया है कि वह दुनिया के अमन और शांति के लिए घातक है। मैं आर्मेनिया के नागरिकों से कहना चाहूंगा कि वह अपने भविष्य के लिए सरकार का विरोध करें। आर्मेनिया की सरकार आपको पालतू बना रही है।”

रूस और तुर्की में जंग का मंडराया खतरा

रूस जहां आर्मीनिया का समर्थन कर रहा है, वहीं अजरबैजान के साथ नाटो देश तुर्की और इजरायल है। न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स की रिपोर्ट के मुताबिक आर्मेनिया और रूस में रक्षा संधि है और अगर अजरबैजान के ये हमले आर्मेनिया की सरजमीं पर होते हैं तो रूस को मोर्चा संभालने के लिए आना पड़ सकता है। उधर, आर्मेनिया ने कहा है कि उसकी जमीन पर भी कुछ हमले हुए हैं।

रूस ने शांति की अपील की


रूस ने आर्मेनिया और अजरबैजान से शांति की अपील की है। रूस के विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह मध्यस्थता के लिए तैयार हैं। लेकिन इसके लिए दोनों देशों को तुरंत युद्ध रोकना होगा। विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने कहा कि रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव युद्धविराम के लिए दोनों पक्षों से बातचीत कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here