अब भूटान पर है ‘ड्रैगन’ की नजर, चीन ने इस हिस्से पर ठोका दावा

9
China now claims Bhutan's territory.
China now claims Bhutan's territory.

ड्रैगन की नई चाल / चीन ने अब भूटान की जमीन पर दावा किया; भूटान का जवाब- दावा गलत, वो जमीन हमारे देश का अटूट हिस्सा. China now claims Bhutan’s territory.

  • चीन ने कहा क‍ि सकतेंग वन्‍यजीव अभयारण्य की जमीन व‍िवादित है। उधर, भूटान ने चीन की इस नापाक चाल का कड़ा व‍िरोध क‍िया है।
  • इस जमीन पर कभी पहले विवाद नहीं रहा, चीन ने पहली बार दावा किया
  • ग्लोबल इन्वायरमेंट फैसिलिटी काउंसिल की 58वें बैठक में चीन ने भूटान के सकतेंग वन्यजीव अभयारण्य (Sakteng Wildlife Sanctuary ) की जमीन को विवादित बताया।
  • हालांकि, भूटान ने चीन की इस चाल पर कड़ा विरोध जताया है. उसका कहना है कि अभयारण्य की जमीन हमेशा से उसकी थी और आगे भी रहेगी.
  • सच्चाई यह है कि अभयारण्य की इस जमीन को लेकर दोनों देशों में कभी विवाद नहीं रहा। हालांकि, दोनों देशों के बीच अभी भी सीमाएं तय नहीं हैं। चीन इसी बात का फायदा उठाने की कोशिश कर रहा है। 
  • गौर करने वाली बात यह है कि साकतेंग अभयारण्य कभी भी ग्लोबल फंडिंग का हिस्सा नहीं रहा. पहली बार जब यह अंतरराष्ट्रीय मंच पर एक परियोजना के रूप में सामने आया, तो चीन ने मौके को लपक लिया और जमीन हड़पने के लिए अपना दावा ठोक दिया. हालांकि, चीन के विरोध के बावजूद काउंसिल के अधिकांश सदस्यों द्वारा परियोजना को मंजूरी मिल गई है. 
  • काउंसिल में चीन का एक प्रतिनिधि है। वहीं, भूटान का सीधे तौर पर कोई प्रतिनिधि नहीं है। भूटान का प्रतिनिधित्व भारतीय आईएएस अधिकारी अपर्णा सुब्रमणि ने किया। वे वर्ल्ड बैंक में बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, नेपाल, श्रीलंका की प्रभारी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here