BHAR DO JHOLI MERI LYRICS – Bajrangi Bhaijaan

74
BHAR DO JHOLI MERI LYRICS - Bajrangi Bhaijaan
BHAR DO JHOLI MERI LYRICS - Bajrangi Bhaijaan

Bhar Do Jholi Meri Lyrics: from the movie Bajrangi Bhaijaan is sung by Adnan Sami, its music is composed by Pritam Chakraborty and lyrics are written by Kausar Munir. Starring Salman Khan, Kareena Kapoor. Music label T-Series.

Bhar Do Jholi Meri Song Detail

SONG: BHAR DO JHOLI MERI
SINGER: ADNAN SAMI
SONG: TRADITIONAL
MUSIC RECREATED BY: PRITAM
LYRICS: KAUSAR MUNIR
MUSIC LABEL: T-SERIES

‘Bhar Do Jholi Meri’ FULL VIDEO Song – Adnan Sami | Bajrangi Bhaijaan | Salman Khan

Bhar Do Jholi Meri Hindi Lyrics

तेरे दरबार में दिल थाम के वो आता है
जिसको तू चाहे, हे नबी तू बुलाता है

भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली
भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

बांध दीदों में भर डाले आंसू
सील दिए मैंने दर्दों को दिल में
बांध दीदों में भर डाले आंसू
सील दिए मैंने दर्दों को दिल में

जब तलक तू बना दे ना तू बिगड़ी
दर से तेरे ना जाए सवाली

भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

भर दो झोली आका जी
भर दो झोली हम सबकी
भर दो झोली नबी जी
भर दी झोली मेरी सरकार-ए-मदीना
लौट कर मैं ना जाऊँगा खाली

खोजते खोजते तुझको देखो
क्या से क्या, या नबी हो गया

खोजते खोजते तुझको देखो
क्या से क्या, या नबी हो गया

देखबर दर-ब-दर फिर रहा हूँ
मैं यहाँ से वहां हो गया हूँ
देखबर दर-ब-दर फिर रहा हूँ
मैं यहाँ से वहां हो गया हूँ

दे दे या नबी मेरे दिल को दिलासा
आया हूँ दूर से मैं होके रुहासा
दे दे या नबी मेरे दिल को दिलासा
आया हूँ दूर से मैं होके रुहासा

कर दे करम नबी, मुझपे भी ज़रा सा
जब तलक तू, जब तलक तू
पनाह दे ना दिल की
दर से तेरे ना जाए सवाली

भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली
भर दी झोली मेरी सरकार-ए-मदीना
लौट कर मैं ना जाऊँगा खाली
भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

जनता है ना तू क्या है दिल में मेरे
बिन सुने गिन रहा है ना तू धड़कने
जनता है ना तू क्या है दिल में मेरे
बिन सुने गिन रहा है ना तू धड़कने

आह निकली है तो चाँद तक जायेगी
तेरे तारों से मेरी दुआ आएगी
आह निकली है तो चाँद तक जायेगी
तेरे तारों से मेरी दुआ आएगी

ए नबी हाँ कभी तो सुबह आएगी
जब तलक सुनेगा ना दिल की
डर से तेरे ना जाए सवाली

भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

दे तरस खा तरस मुझपे आका
अब लगा ले तू मुझको भी दिल से
दे तरस खा तरस मुझपे आका
अब लगा ले तू मुझको भी दिल से

जब तलक मिला दे ना बिछड़ी
दर से तेरे ना जाए सवाली
भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

भर दो झोली आका जी
भर दो झोली हम सबकी
भर दो झोली नबी जी
भर दी झोली मेरी सरकार-ए-मदीना
लौट कर मैं ना जाऊँगा खाली

दम दम अली अली दम अली अली
दम अली अली दम अली अली..

Bhar Do Jholi Meri Lyrics

Tere darbar me dil thaam ke wo aata hai
Jisko tu chaahe Phir Nabi tu bulata hai

Bhar do jholi meri ya Mohammad
Laut kar main na jaunga khaali
Bhar do jholi meri ya Mohammad
Laut kar main na jaunga khaali
Band deedon mein bhar daale aansoo
Sil diye maine dardon ko dil mein
Band deedon mein bhar daale aansoo
Sil diye maine dardon ko dil mein
Jab talak tu banaa de na bigdi
Dar se tere na jaaye sawali
Deedon: aankhein, eyes

Bhar do jholi meri ya Mohammad
Laut kar main na jaunga khaali
Khaali!

Bhar do jholi, aaka ki
Bhar do jholi, hum sabki
Bhar do jholi, Nabi ji
Bhar do jholi meri sarkar-e-Medeena
Laut kar main na jaunga khaali

Dum dum Ali Ali, dum Ali Ali
Dum Ali Ali, dum Ali Ali
Dum Ali Ali, dum Ali Ali
Dum Ali Ali, dum Ali
Ali Ali dum, Ali Ali dum
Ali Ali dum Ali…